तालिबान ने अफगान जिले पर बोला धावा, 18 की जान ली

गजनी। तालिबान ने गुरुवार तड़के अफगानिस्तान के गजनी प्रांत के ख्वाजा उमरी जिले पर बड़ा धावा बोला। इस हमले में जिला गर्वनर अली दोस्त शम्स, खुफिया सेवा के निदेशक और एक पुलिस अधिकारी समेत 18 लोगों की जान चली गई। आतंकियों ने जिला मुख्यालय को भी आग के हवाले कर दिया।

गजनी के उप पुलिस प्रमुख रमजान अली मोहसनी ने बताया कि तालिबान ने गुरुवार तड़के ख्वाजा उमरी जिले में धावा बोला। उन्होंने कुछ समय के लिए जिला मुख्यालय पर कब्जा कर लिया था। बाद में सुरक्षा बलों की जवाबी कार्रवाई में 45 से 50 आतंकी भी मारे गए।

यह जिला प्रांतीय राजधानी गजनी के समीप स्थित है और प्रांत के सबसे सुरक्षित जिलों में माना जाता था। तालिबान ने हमले की जिम्मेदारी ली है। तालिबान प्रवक्ता जबीहुल्ला मुजाहिद ने दावा किया कि इस हमले में 20 सुरक्षाकर्मी मारे गए। उसने यह दावा भी किया कि जिले की सभी सुरक्षा चौकियां तालिबान के नियंत्रण में हैं और ख्वाजा उमरी पर कब्जे से तालिबान प्रांतीय राजधानी के और करीब पहुंच गया है।

डेढ़ लाख की आबादी वाला गजनी शहर अफगानिस्तान की राजधानी काबुल से करीब 150 किमी दूर है। अफगान संसद के सदस्य मुहम्मद आरिफ रहमानी ने बताया कि तालिबान ने सुरक्षा बलों को ख्वाजा उमरी पहुंचने से रोकने के लिए बारूदी सुरंग भी बिछाई थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *