थाईलैंड रेस्क्यू ऑपरेशन में लगे नेवी सील कमांडो की मौत, तीन महीने फंसे रह सकते हैं बच्चे

माई साई। थाईलैंड की गुफा में 12 बच्चे और उनके कोच फंसे हुए हैं, जिन्हें निकालने के लिए शिद्दत से कोशिश की जा रही है। इस बीच ऑक्सीजन की कमी से थाई नेवी सील के एक कमांडो की मौत हो गई है। इस दर्दनाक खबर के बाद एक बार फिर डर की स्थिति पैदा हो गई है कि कैसे गुफा में फंसे 12 बच्चों और उनके कोच को सुरक्षित बाहर निकाला जाए?

बारिश के मौसम के खत्म होने के इंतजार के अलावा फिलहाल कोई दूसरा विकल्प नजर नहीं आ रहा है। इसके लिए करीब चार महीने तक जूनियर टीम को गुफा के अंदर ही रहना पड़ सकता है। मगर, इस काम में भी कम अड़चनें नहीं हैं। मौसम विभाग ने चेतावनी दी है कि उत्तरी थाइलैंड के चियांग राय प्रांत में 7 से 12 जुलाई तक भारी बारिश हो सकती है। इससे प्रांत में स्थित थाम लुआंग गुफा में जलस्तर बढ़ सकता है।

बचाव दल को पहले ही प्रतिकूल मौसम और गुफा के अंदर पहुंचने में परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। उस पर मौसम विभाग ने दो दिन बाद एक हफ्ते तक भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। लिहाजा बचाव कार्य में बारिश और भी मुश्किलें पैदा कर सकती है। बताते चलें कि स्कूली फुटबॉल टीम के 11 से 16 साल के 12 खिलाड़ी और उनके 25 वर्षीय कोच 23 जून से इसी गुफा में फंसे हुए हैं।

गुफा में इंटरनेट केबिल बिछा रहे हैं

इस बीच गुफा में फंसे खिलाड़ियों से संपर्क स्थापित करने के लिए तमाम कोशिशें की जा रही है। गुफा के अंदर इंटरनेट केबल को स्थापित किया जा रहा है, ताकि माता-पिता अंदर फंसे अपने बच्चों से बात कर सकें। इसके लिए नेवी के सील कमांडों के साथ मिलकर काम किया जा रहा है। कहा जा रहा है कि गुफा में फाइबर ऑप्टिक इंटरनेट लाइन बिछाने के लिए सील कमांडो अंदर था, लेकिन ऑक्सीजन की कमी के चलते उसकी जान चली गई।

आपदा निवारण विभाग के उप निदेशक कोर्बचाई बूनोराना ने बताया कि 12 खिलाड़ियों और उनके कोच को सुरक्षित बाहर निकालने के लिए बचावकर्मी गुफा परिसर के पास कुओं से पानी निकाल रहे हैं, ताकि गुफा के अंदर पानी का स्तर कम हो सके। उन्होंने कहा कि जितना पानी निकलता रहेगा, उतना अच्छा रहेगा।

संचार तकनीशियन फूवानार्ट केवुडम ने बुधवार को कहा कि केबल स्थापित होने के बाद गुफा से फोन कॉल करना संभव होगा। अधिकारियों ने उसी मंगलवार को करने की कोशिश की, लेकिन पानी से उपकरण क्षतिग्रस्त हो गए। बुधवार को संचार टेकनीशियन ने बताया कि जैसे ही केबल स्थापित हो जाएंगे, गुफा के अंदर फोन कॉल करना संभव हो जाएगा। हालांकि, अधिकारियों ने ये कोशिश मंगलवार को भी की थी, लेकिन पानी के कारण उपकरण खराब हो गए थे।

सभी 13 को साथ निकालना मुश्किल

तमाम कोशिशों की बीच प्रांतीय राज्यपाल ने यह तो साफ कह दिया है कि सभी 13 एक ही समय में बाहर नहीं निकाले जा सकते हैं। गुफा से सभी को सुरक्षित निकालने के विकल्पों पर विचार हो रहा है, जिसमें डाइविंग भी शामिल है।

ये सभी लोग 23 जून की शाम फुटबाल खेलने के बाद उत्तरी थाईलैंड की एक गुफा देखने गये थे। मगर, बाढ़ के पानी के कारण सभी गुफा के अंदर फंस गये। बचावकर्ता अध्ययन कर रहे हैं कि उन्हें सुरक्षित रूप से कैसे निकाला जाए। थाईलैंड की नौसेना लगातार गुफा के फंसे बच्चों का वीडियो जारी कर रही है, ताकि उनके माता-पिता थोड़ी राहत की सांस ले सकें। सेना का कहना है कि बच्चों को बाहर निकालने में चार महीने तक का समय लग सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *