MP Board Result 2018: 10वीं और 12वीं के नतीजे घोषित, लड़कियों ने मारी बाजी

इस साल करीब 20 लाख छात्र-छात्राओं ने 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षाएं दी. 12वीं के
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने माध्यमिक शिक्षा मंडल द्वारा आयोजित मध्य प्रदेश बोर्ड 10वीं और 12वीं परीक्षा 2018 के परिणामों को घोषित किया. इस मौके पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा प्रदेशभर से मेरिट में आने वाले विद्यार्थियों का सम्मान भी किया. यह लगातार दूसरा साल है, जब दोनों परीक्षाओं का रिजल्ट एक साथ, एक दिन घोषित किया गया है.

12वीं परीक्षा में इस वर्ष 68.07% नियमित परीक्षा सफल हुए है. जिनमें 64.39% छात्र और 72.33% नियमित छात्राएं है.
इस साल के परीक्षा परिणाम में 234095 परीक्षार्थी प्रथम श्रेणी, 152534 परीक्षार्थी द्वितीय श्रेणी और 18222 परीक्षार्थी तृतीय श्रेणी में पास हुए है.

वहीं, 10वीं परीक्षा में इस साल 66.54 प्रतिशत रहा. दसवीं में लड़कियों ने लड़कों को पीछे छोड़ दिया. छात्रों के पास होने का प्रतिशत 64 रहा. जबकि, 69 प्रतिशत लड़कियां पास हुई है.
इस वर्ष करीब 20 लाख छात्र-छात्राओं ने 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षाएं दी थीं. कक्षा 12वीं के 7 लाख 69 हजार विद्यार्थी और 10वीं के 11 लाख 48 हजार विद्यार्थी परीक्षा में बैठे थे. एमपी बोर्ड 12वीं की परीक्षाएं 1 मार्च से 3 अप्रैल तक चली थीं. एमपी बोर्ड 10वीं की परीक्षाएं 5 मार्च से 31 मार्च तक हुई थीं.

रिजल्ट के पहले मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट कर कहा, ’12वीं में 70% से अधिक अंक लाने वाले बच्चों की उच्च शिक्षा की पूरी फीस प्रदेश सरकार भरवायेगी. अब हमने एक फैसला और किया है कि जो परिवार आर्थिक रूप से कमजोर हैं, उन परिवारों के बच्चों के लिए 70% अंकों की शर्त भी अनिवार्य नहीं रहेगी.’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *