सरकार बनाने गांव-गांव, घर-घर घूमेंगे शिवराज के मंत्री, विधायक और सांसद

भोपाल : मध्यप्रदेश में शिवराज सरकार एक बार फिर विकास यात्रा के बहाने जनता की नब्ज टटोलने निकल रही हैं । इसके पहले शिवराज नर्मदा सेवा यात्रा के जरिये आम जनता तक पहुँचे थे, जिस को एक साल हो गया है।

अब पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने जब नर्मदा की परिक्रमा की और नर्मदा के किनारे बसे गांव और नर्मदा के हालातों की तस्वीर सामने लायी तो हड़कंप मच गया। ऐसे में शिवराज सरकार ने विकास यात्रा का प्लान तैयार कर लिया । 15 मई से 30 जून तक डेढ़ महीने तक निकलने वाली यात्राओं के दौरान मंत्री, विधायक, सांसद और मुख्यमंत्री गांव-गांव घूमेंगे, जहां जरूरत होगी वहां भूमि पूजन भी करेंगे और लोकार्पण भी करेंगे। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने समाधान ऑनलाइन के जरिए सभी जिला कलेक्टरों को विकास यात्राओं की तैयारी करने के निर्देश दिए हैं।

खुलेगी योजनाओं की पोटली, मिलेगा सब को लाभ 
शिवराज सरकार की विकास यात्राओं के दौरान प्रदेश भर में आयोजन होंगे और इन आयोजनों में विभिन्न योजनाओं के हितग्राहियों को योजनाओं का लाभ दिया जाएगा। इसके लिए सभी विभागों से योजना अनुसार हितग्राहियों को लाभ प्रदान करने की तैयारी करने को कहा है। विकास यात्रा के दौरान मुख्यमंत्री, मंत्री, विधायक या सांसद जिस क्षेत्र में रहेंगे वे वहां हितग्राहियों को योजना का लाभ देंगे। साथ ही गांव-शहर में जहां विकास कार्य मंजूर होंगे, वहां तत्काल शिलान्यास होंगे। साथ ही जो कार्य पूरे हो चुके हैं, उनका लोकार्पण भी होगा। मुख्यमंत्री ने मैदानी अफसरों से कहा कि राज्य सरकार का मुख्य एजेंडा विकास और जन-कल्याण है। सीएम ने कहा कि 7 मई को होने वाली ग्राम सभाओं में श्रमिकों के प्राप्त आवेदनों की सूची का वाचन किया जाये। वाचन के बाद पात्र श्रमिकों को कार्ड दिये जाएंगे। साथ ही अपात्रों के नाम काटे जाएंगे।

5 मई को विकासखंडों में होंगे स्वयं सहायता समूहों के सम्मेलन 
मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि चना, मसूर और सरसों के समर्थन मूल्य पर उपार्जन के कार्य को पूरी दक्षता और कुशलता से पूरा किया जाए। किसानों को भुगतान में कहीं भी कोई दिक्कत नहीं हो। पेयजल आपूर्ति के लिये भी व्यापक प्रबंध करें तथा आवश्यकतानुसार जिलों में पेयजल परिवहन की व्यवस्था करें। मुख्यमंत्री ने बताया कि ग्राम स्वराज अभियान के अंतर्गत 5 मई को सभी विकासखंडों में आजीविका दिवस पर स्वयं सहायता समूहों के सम्मेलन किये जाएंगे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *